Topics
Back

Corruption Free India

Leave a Comment:

1,115 Comments to “Corruption Free India”

  1. GOVT WORKER KI PIDI KO AAM GIRIB LOGO KI TRAH EXAM PASS KERKE HI MILE WARNA KISI NALAYEK KO BHI ASANI SE GOVT JOB KA MALIK BAN JATA HAI JO GRIB LOG MEHNET SE BHI NAHI BAN PATE
    SO I REQUESTED TO YOU PLZ CHANGE THE RULE FOR SAVE EDUCATED PEOPLES.

  2. Respected P.M.
    Please constitute Lok Pal particularly in B.J.P. ruled
    province on the pattern of Madhya Pradesh

  3. Aiims jaise govt hospitals and Appolo jaise recognised hospitals me samaj k sabhi tabko ka indoor treatment and investigations bina kisi discrimination k honi chahiye…Garib logo ko indoor treatment karane k liye more than year ka samay lag jata h jabki VIP evam unke marfat aane wale logo ka ilaj turant ho jata h…meri sarkar se humble request h ki es bhedbhav ko jald se jald dur kiya jaye taki garib log v apna sahi samay par treatment kra sake….Thanx

  4. मै उत्तर प्रदेश की निवसी हुँ और मुझे ये लगता है की हमारे सरकारी दफ़्तर मे बिना रिश्वत दीये कोई काम नही होता अगर किसी के पास पेसा नही तो उसका काम नही होता ! अत: इसे सुधारने के लिये कधे कदम सरकार को उठाने चाहिये! जैसे
    1. अगर कोई पुलिस वाला अन्फिट है तो उसे छुट्टी नही मिलनी चाहिये आर्मी की तरह!
    2. अगर किसी सरकारी करम्चारी पर संघिन जैसे रैप ,मर्डर आदि आरोप है तो उसकी सरकारी सैलरी नही देनी चाहिये और आरोप सिढ होने के बाद उसे नौकरी से निश्कशित कर देना चाहिये.ऐसे आरोपों मे भ्रस्तचार भी होना चाहिये
    3.

  5. We have taken an commercial connection which gives us reading of 10 -15 units per month in which we use a led in night and fan in summers only for that dvvnl is charging us rs from 600-700 rs. And also there is very less influence on solar panels in aligarh area so plz decrease there prices and increase there influence so that consumer can save their money from these corrupted companies although on names of connection they are just capturing and collecting public money illegally. They are doing fake signature themselves on behalf of consumer so more practises are going on.

  6. जो मैंने देखा है, जमीन-जायदाद खरीदने बेचने पर धन का आदान प्रदान सिर्फ क्रेता-विक्रेता के खाते से सीधे होना चाहिए। ऐसा करने पर सही मूल्य का भी पता लगेगा व विक्रेता के मुकरने पर एक सबूत के तौर पर पेश भी कर पाएंगे।

    सभी ठेके व सार्वजनिक क्षेत्र के विकास कार्यो का आवंटन कंप्यूटर प्रणाली के द्वारा करना चाहिए,मतलब किसी भी प्रकार का एक्सेस मैन्युअल नही होना चाहिए,ठेकेदार अपना एलिजिबल होने की जानकारी जमा कर,सॉफ्टवेयर ऑटोमेटिकली मैच होने पर ठेका आवंटित करेगा।

  7. Farmers should file income tax return which would increase access of income tax authorities to most of the earning sources of the citizens and eventually curb black money and corruption.